Best Healthy and Vegetarian Recipes

दूध में हल्दी मिलाकर पीने के फायदे

0 349

- Advertisement -

सर्दी, खासी हो या थकान या कोई और परेशानी हमेशा हम इसे बिना दवाई खाये ठीक करना चाहते है क्योंकी सभी जानते है की ज्यादा दवाइयों का सेवन हानिकारक है। तो चलिए करते है अपने छोटी सी थकान को हल्दी के दूध के साथ ठीक परन्तु क्या आप हल्दी का दूध बनाने का सही तरीक जानते है अगर नहीं तो चलिए सीखते है आज ….

हल्दी का दूध की सामग्री

  • दूध – 2 कप 
  •  हल्दी पाउडर – 2 चम्मच पिसी हुई ताजी हल्दी
  • काली मिर्च – 1 छोटा चम्मच पिसी हुई 
  • शहद – 2 चम्मच 

तैयारी का समय : 5 मिनट

खाना बनाने का समय : 6  मिनट  

कुल समय : 11 मिनट

विधि 

स्टेप 1 पैन में दूध डालकर उबाल ले।
सबसे पहले एक सॉस पैन लीजिये और सॉस पैन को माध्यम आंच पे गैस पर रख दे और पैन में दूध डाल दे और दूध को माध्यम आंच पे उबला ने दीजिये। जब दूध में हल्का हल्का उबाल आजाये तब आंच को कम कर दे और दूध को थोड़ा सा चला दे ताकि दूध तले से जले नहीं, फिर पैन में हल्दी पाउडर और पिसी हुई काली मिर्च पाउडर डाल दे और दोबार दूध को चला दे और कम आंच पे 2 से 3 मिनट तक दूध को पक ले और 2 मिनट बाद गैस को बंद कर दीजिये।
स्टेप 2 गर्म दूध को गिलास में डाल दे।
अब दूध को छलनी से छानकर गिलास में डाल दीजिये। उसके बाद गिलास में शहद डाल दे और अच्छी तरह चम्मच से शहद को दूध में घुलने तक मिला ले और मिलाने के बाद दूध में एक चुटकी हल्दी पाउडर छिड़कें दे और गरमा गर्म परोसे। हल्दी का दूध तैयार है।

पोषण संबंधित जानकारी

- Advertisement -

  • कैलोरी: 175kcal 
  • कार्बोहाइड्रेट: 18g 
  • प्रोटीन: 7g 
  • वसा: 8 ग्राम 
  • सैचुरेटेड फैट: 4g 
  • कोलेस्ट्रॉल: 24 मिलीग्राम 
  • सोडियम: 105mg 
  • पोटेशियम: 349mg 
  • चीनी: 18 ग्राम 
  • विटामिन ए: 395IU 
  • कैल्शियम: 276mg 
  • आयरन: 0.5mg

कच्ची हल्दी खाने के स्वस्थे लाभ 

  • कच्ची हल्दी का सेवन डायबिटीज के रोगियों के लिए लाभकारी है क्योंकी हल्दी में मौजूद गुन शरीर में इंसुलिन के लेवल को कांट्रोल करता है। जिसे डायबिटीज बढ़ाने का खतरा नहीं रहता है।
  • हल्दी में उपस्थित करक्यूमिन मेटाबोलिक सिंड्रोम कई तरह की बीमारियों को कंट्रोल या खत्म कर सकता है जैसे हार्ट डिजीज, स्ट्रोक, मोटापा और डायबिटीज आदि।
  • कच्ची हल्दी में एंटी-कैंसर गुण पाय जाते है जो शरीर में बढ़ती हुई कैंसर कोशिकाओं को बढ़ाने से रोकने में मदद करता हैं।

परोसने के प्रकार :

  • दूध को रात के खाने के बाद परोसे।
  • दूध को कभी भी परोस सकते है।
  • दूध के गिलास में केसर डाल कर परोस सकते है।

स्वाद में बदलाव :

  • दूध को दालचीनी की स्टिक और कदूकस किया हुआ अदरक डालकर उबाल सकते है।
  • खुशबू के लिए इलायची पाउडर डाल सकते है।
  • साधारण दूध की जगह नारियल का दूध, बादाम का दूध या काजू के दूध का इस्तेमाल कर सकते है।
  • ब्राउन शुगर डाल सकते है मिठास के लिए।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

हल्दी का दूध पीने का सबसे अच्छा समय कब है?
आप हल्दी का दूध दिन में किसी भी समय पी सकते है, परन्तु ज्यादा लाभ सुबह और रात के समय पीने से होता है। रात के समय पीने का लाभ ये है की नींद अच्छी आती है।
आप एक दिन में कितनी हल्दी का सेवन कर सकते हैं?
आप एक दिन में 500 मिलीग्राम हल्दी का सेवन कर सकते हैं। मतलब पुरे दिन में आप एक या दो गिलास हल्दी का दूध पी सकते है।
खांसी के लिए हल्दी दूध कैसे बनाएं?
खांसी के लिए हल्दी दूध बनाने के लिए, 3-4 कुटी काली मिर्च, 2-3 कुटी हुई लौंग, 1 इंच दालचीनी का टुकड़ा, 5-6 तुलसी के पत्ते दूध में डाल दे और दूध को 10-15 मिनट तक माध्यम आंच पे उबाल ले और 10 मिनट बाद गैस को बंद कर दे। खांसी के लिए हल्दी का दूध तैयार है।

- Advertisement -

Now Read Recipes in English Also Click Here

Leave A Reply

Your email address will not be published.