सर्दियों में घर पर बनाये मुहं में पानी लाने वाली मारवाड़ की सुप्रसिद्ध “मेवा मिश्री बाटी”

0 1,696

सामग्री:
देशी घी तलने के लिए:
फीका मावा 250 ग्राम
सूखे मेवे काजू बादाम पिस्ता कटा हुआ 50 ग्राम
सूजी 50 ग्राम
मैदा 200 ग्राम
बडी इलायची के दाने ½ चम्मच
मिश्री का चूरा या मोटे दाने वाली चीनी 100 ग्राम
देसी घी मोयन के लिए 2 बड़ी चम्मच

केसर सिरप के लिए:
चीनी 200 ग्राम
केसर 10 पंखुड़ी
इलायची पिसी 1 चुटकी

विधि:
केसर सिरप के लिए केसर को एक चम्मच पानी में भिगोकर घोंट लें. एक बर्तन में चीनी व एक कप पानी मिलाकर उबालें व एक तार की चाशनी बना लें. आंच से उतारकर उसमें केसर व पिसी इलायची मिलाकर ढंक कर रख दें ताकि केसर की खुशबू न उडे.

बाटी के लिए मैदे में सूजी व मोयन का घी मिलाकर मसलें. अब गुनगुने पानी से सख्त गून्धें. दस मिनट के लिए ढक कर रखें. फिर दोबारा मुलायम होने तक गुन्धें.

मावा हल्का सा भूनें व मिश्री या चीनी, मेवा, इलायची मिला कर अलग रखें.

मैदे के मिश्रण की छोटी लोई बनाकर मोटी पूरी जैसा बेलें और बीच में मावा मिश्रण भर कर किनारों को पानी लगा कर बन्द करें. अब बाटी को हल्का सा दबा कर गरम घी में सुनहरा होने तक तल लें.

परोसते समय प्लेट में एक मावा बाटी रखें व उसे बीच से फोड दें अब उस के उपर थोडा सा केसर सिरप डालें व पिस्ते व बादाम से सजायें….👍👍😊😊👌👌

इस स्वादिष्ट बाटी में भरी हुई मिश्री बाटी तलने के दौरान पिघल कर मावा मेवा के साथ स्वाद का एक अनूठा ज़ायका देती हैं…

Comments
Loading...