1 महीने के लिए नहीं किए जाएंगे शुभ काम, इस दिन से शुरु होंगे मलमास

0 1,468

ज्योतिषशास्त्र का हमारे जीवन में बहुत महत्व होता है, हर कोई ज्योतिष में बताए गए शुभ-अशुभ मुहूर्त का पालन करते हैं। कोई भी शुभ काम को करने से पहले आप शुभ अशुभ मुहूर्त को देखते हैं। ग्रहों की इन्हीं दशा में से एक मलमास होता है जिसे खरमास के नाम से भी जाना जाता है। जैसे हिंदू धर्म में श्राद्ध और चार्तुमास में शुभ-शगुन के काम करना अच्छा नहीं माना जाता है वैसे ही खरमास के दौरान भी सभी तरह के अच्छे कार्य करना वर्जित माना जाता है।

हिंदू पंचांग के अनुसार, 15 मार्च शुक्रवार को सुबह 5 बजकर 55 मिनट तक सूर्य मीन राशि में प्रवेश करेगा। इसी के साथ खरमास शुरू हो जाएगा, फिर एक माह तक खरमास लगा रहेगा।

अगले एक महीने तक कोई मांगलिक कार्य नहीं समपन्न किए जाएंगे।

कब से कब तक रहेगा खरमास- पंचांग के अनुसार, 14 अप्रैल, 2019 रविवार दोपहर 2 बजकर 25 मिनट तक सूर्य मीन राशि में गोचर करेगा। उसी समय से सूर्य मेष राशि में प्रवेश करेगा। तभी से विवाह, गृहप्रवेश आदि मांगलिक कार्य भी दोबारा शुरू हो जाएंगे।

खरमास प्रारंभ: 15 मार्च 2019 शुक्रवार को प्रातः 05:55 बजे

खरमास समाप्त: 14 अप्रैल 2019 रविवार दोपहर 02:25 बजे

खरमास में गलती से भी नहीं करने चाहिए ये काम-
– खरमास में कोई मांगलिक कार्य जैसे शादी, गोदभराई, सगाई, बहू का गृह प्रवेश, गृह प्रवेश, गृह निर्माण, नए व्यापार का आरंभ आदि करना अच्छा नहीं माना जाता है।

– खरमास में नया घर, नई कार की खरीददारी भी नहीं करनी चाहिए।

खरमास के समय किसी के साथ विवाद में नहीं उलझना चाहिए।

– मांस-मदिरा के सेवन से परहेज करना चाहिए।

– खरमास की अवधि में यदि कोई भिखारी या जरूरतमंद दरवाजे पर आ जाए तो उसे खाली हाथ नहीं लौटाना चाहिए।

Comments
Loading...