आज का प्रेरणादायक विचार – 5 बेटियों का हुआ जन्म तो मां-बाप को सुनने पड़े थे ताने…अब 3 हैं अफसर, दो इंजिनियर

0 416

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले की फरीदपुर तहसील के अंतर्गत चंद्रसेन सागर और मीना देवी के घर पहली संतान के रूप में बेटी का जन्म हुआ। फिर एक-एक कर पांच बेटियां हुईं। जहां परिवार में इसके बाद खुशी का माहौल था तो लोग 5 बेटियों के जन्म पर ताने मारने लगे। लोगों ने कहा कि क्या अब इन्हें आईएएस बनाओगे। यह बात सच साबित हो गई।

चंद्रसेन सागर की पांच में से तीन बेटियों ने यूपीएससी परीक्षा पास की। दो बेटियां आईएएस और तीसरी बेटी आईआरएस अधिकारी है। वहीं बाकी दो बेटियां भी इंजिनियर हैं।

चंद्रसेन सागर ने बताया कि बेटियों के अफसर बनने में कड़ी मेहनत के साथ-साथ उनकी मां मीना देवी का काफी योगदान है। उनकी बेटियों की शुरुआती पढ़ाई बरेली के सेंट मारिया कॉलेज से हुई थी।

इसके बाद उन्होंने उत्तराखंड, इलाहाबाद और दिल्ली से बाकी की पढ़ाई पूरी की। तीनों बहनों के ने दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी की।

चंद्रसेन की पहली बेटी अर्जित सागर ने 2009 में अपने दूसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा पास की। इसके बाद वह जॉइंट कमिश्नर कस्टम मुंबई में पोस्टेड हो गईं। अर्जित की शादी आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में हुई है। उनके पति भी आईएएस अफसर हैं।

6 साल बाद वर्ष 2015 में दूसरी बेटी अर्पित को सफलता मिली। वह वर्तमान में वालसाड़ में डीडीओ पर तैनात हैं। वहीं तीसरे और चौथे नंबर की बेटी अश्विनी और अंकिता इंजिनियर हैं। वे अभी मुंबई और नोएडा में प्राइवेट जॉब कर रही हैं।

Photo and Content Sources – NBT.in 

 

5/5 (1 Review)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.