रक्षाबंधन 2019: खास संयोग में इस बार मनाया जाएगा रक्षाबंधन का पर्व

0 890

आपको बता दें कि सावन के महीने में रक्षाबंधन का पर्वत मनाया जाएंगा। वही रक्षाबंधन का पावन त्योहार इस बार 15 अगस्त को मनया जाएंगा। इस दिन बहने अपने भाईयों की कलाई में राखी बांधती हैं। वही सभी बहनों को हर साल सावन मास की पूर्णिमा का इंतजार रहता हैं वही इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा का साया नहीं रहेगा।

इसके आलवा भी रक्षाबंधन पर कई शुभ संयोग बनेगा।

इस बार रक्षाबंधन के दिन श्रावण नक्षत्र, सौभाग्य योग, सूर्य का कर्क राशि में प्रवेश और चंद्रमा मकर राशि में रहेगा। इसके अतिरिक्त रक्षाबंधन के चार दिन पहले गुरु मार्गी होंगे यानी सीधी चाल चलेंगे। वही इस बार रक्षाबंधन गुरुवार के दिन पड़ने से बहुत ही शुभ संयोग बनेगा।

हिंदू मान्यता के मुताबिक जब भी भद्रा का समय होता हैं। तो उस दौरान राखी नहीं बांधी जा सकती हैं भद्राकाल के समय राखी बांधना अशुभ माना जाता हैं वही शास्त्रों के मुताबिक भद्रा भगवान सूर्य देव की पुत्री और शनिदेव की बहन हैं जिस तरह से शनि का स्वभाव क्रूर और क्रोधी हैं उसी तरह से भद्रा का भी हैं।

वही भद्रा के उग्र स्वभाव के कारण ब्रह्माजी ने इन्हें पंचाग के एक प्रमुख अंग करण में स्थान दिया हैं। पंचाग में इनका नाम विष्टी करण रखा गया हैं। दिन विशेष पर भद्रा करण लगने से शुभ कार्यों को करना निषेध माना जाता हैं एक अन्य मान्यता के मुताबिक रावण की बहन ने भद्राकाल में ही अपने भाई की कलाई में रक्षासूत्र बांधा था। जिसके कारण ही रावण का सर्वनाश हुआ था।

Comments
Loading...