कल सोमवती अमावस्या पर करें ये उपाय

0 1,728

हर माह अमावस्या और पूर्णिमा पड़ती है जिस दिन हम व्रत और पूजा कर हर संकट से मुक्त हो सकते हैँ। हर माह की तरह इस माह भी अमावस्या पड़ रही है जो 3 जून यानि कि कल है, सोमवार के दिन अमावस्या के पड़ने से इसे सोमवती अमावस्या के नाम से जाना जाता है।

इस दिन चंद्रमा के दर्शन नहीं होते हैं। सोमवती अमावस्या पर सोमवार का दिन होने से भगवान शिव की पूजा अर्चना करके कमजोर चंद्रमा को बलवान किया जा सकता है। विवाहित स्त्रियां अपने पति की दीर्घायु के लिए सोमवती अमावस्या पर व्रत भी रखती हैं। सोमवती अमावस्या पर पीपल की पूजा अर्चना करके पितरों को प्रसन्न किया जाता है जिससे घर में अन्न धन की कोई कमी नहीं रहती है।

सोमवती अमावस्या पर पीपल की पूजा-
– सोमवती अमावस्या के दिन सूर्य उदय होने से पहले उठे

– अपने स्नान के जल में एक चम्मच गंगाजल मिलाकर स्नान करें और हल्के रंग के स्वच्छ वस्त्र धारण करें

– एक स्टील के लोटे में कच्चा दूध जल पुष्प अक्षत और गंगाजल मिलाकर पीपल के वृक्ष की जड़ में दाएं हाथ से दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके अर्पण करें

– सुहागन स्त्री अपने पति की लंबी आयु के लिए पीपल के वृक्ष की सात परिक्रमा करें

– और कोई भी व्यक्ति अपने मन की इच्छा बोलते हुए सफेद मिष्ठान्न पीपल के वृक्ष की जड़ में अर्पण करें

सोमवती अमावस्या पर करें तुलसी की पूजा-
– सोमवती अमावस्या के दिन शाम के समय स्नान करके स्वच्छ वस्त्र धारण करें

– पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके तुलसी के पौधे के नीचे गाय के घी का दीया प्रज्वलित करें

– रोली मोली चावल धूप दीप से पूजा अर्चना करें

– तुलसी के पौधे की 108 परिक्रमा करते समय ॐ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का 108 बार ही जाप करें

– अपने रुकेगी धन की प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु और तुलसी जी से प्रार्थना करें

Comments
Loading...