सूर्यग्रहण लगा, ये होगा देश-दुनिया पर असर

0 688

साल का पहला सूर्यग्रहण आज लगने वाला है। हालांकि ये आंशिक सूर्यग्रहण होगा और भारत में दिखाई नहीं देगा। लेकिन इसका असर देश दुनिया पर पड़ेगा। यह सूर्य ग्रहण उत्तर-पूर्वी चीन, मंगोलिया, जापान, पूर्वी रूस, उत्तर और पूर्वी अलास्का में देखा जा सकेगा।

ग्रहण का देश दुनिया पर प्रभाव

सूर्यग्रहण के दो दिन के अंदर चीन, रूस, जापान और कोरिया में रिकॉर्ड बर्फबारी होगी जिसका प्रभाव तिब्बत से होते हुए भारत के पूर्वी भागों में भी पड़ेगा। ग्रहण के समय सूर्य और चन्द्रमा धनु राशि में शुक्र के नक्षत्र पूर्वाषाढ़ा में हैं। इस योग से पूर्वी एशिया में कड़ाके की ठंड पड़ेगी।

इंडोनेशिया और जापान में अगले 15 दिन के अंदर भूकंप के झटके आ सकते हैं। वृश्चिक राशि में चल रहे गुरु और शुक्र तथा कर्क में गोचर कर रहे राहु भी बर्फबारी का कारण बनेंगे। वहीं उत्तर भारत में वर्षा से ठंड का कहर बढ़ेंगा।

वहीं भारत में सुबह 06 बजकर 58 मिनट पर बन रही ग्रहण की  कुंडली में छाया ग्रहों राहु और केतु को छोड़कर सभी ग्रह तीन राशियों में स्थित हैं जिससे ‘शूल’ नाम का नभस योग बन रहा है।  इस योग के प्रभाव से भारत में तथा एशिया के अन्य देशों में राजनेताओं में परस्पर विरोध बढ़ेगा।

वहीं धनु राशि में पड़ रहें ग्रहण के प्रभाव से एशिया के देशों में हशियारों की होड़ बढ़ेगी। जिससे चीन और पाकिस्तान के साथ भारत के रिश्तों में तवान पड़ेगा।

Comments
Loading...