नवरात्रि अष्टमी के दिन कन्या पूजन के दिन बनाएं हलवा-चने का प्रसाद

0 7,287

नवरात्रि की नवमी तिथि को लोग मां सिद्धिदात्री की पूजा अर्चना के बाद कन्या पूजन करते हैं और मां को हलवा पूड़ी और चने का प्रसाद चढ़ाते हैं. माना जाता है कि मां को हलवा पूड़ी और चना काफी पसंद है. यही वजह है कि कुछ लोग कन्या पूजन में भी देवी रुपी कन्याओं को हलवा पूड़ी और चना परोसते हैं.

यूं तो नवरात्रि के किसी भी दिन कन्या भोज करना शुभ माना जाता है. हालांकि अष्टमी और नवमी तिथि पर कन्या भोज कराना बेहद उत्तम माना गया है.

सूजी का हलवा 

सामग्री :-

सूजी – 70 ग्राम (आधा कप)
देसी घी – 60-70 ग्राम (1/3 कप)
चीनी – 100 ग्राम (आधा कप से थोड़ी सी अधिक)
काजू – 10-15
किशमिश – 10-15
छोटी इलाइची – 5
बादाम – 3-4 (यदि आप चाहें )
कसा नारियल – 2 चम्मच (यदि आप चाहें)
पानी – 400 ग्राम (2 कप)

विधि :-

एक कढ़ाई में घी गर्म करें और उसमें सूजी डाल कर कलछी से चलाते हुए भूनें। 5 मिनट बाद आप देखेंगे कि सूजी गुलाबी होने लगी है।

जब सूजी हल्की भूरी हो जाए तो उसमें पानी और चीनी डालें और धीमी आँच पर हलवे को पकने दें।

जब यह पक जाए तो इसमें काजू और किशमिश डालकर मिला दें और थोड़ी-थोड़ी देर में चलाते रहें।

कुछ देर बाद इसे गैस पर से उतार लें और इसमें इलाइची पीस कर मिला दें। अब इसे किसी बर्तन में निकालकर बारीक कतरे हुए बादाम और नारियल से सजाएं।

काले चने 

सामग्री-

काले चने- 1 कप
तेल- 1 चम्मच
जीरा- 1/2  चम्मच
हींग- 1/2 चम्मच
टमाटर- 1/4 कप
हरी मिर्च- 1
धनिया पाउडर- 2 चम्मच
हल्दी पाउडर- 1/2 चममच
लाल मिर्च पाउडर- 1/2 चम्मच
अमचूर- 1/2 चम्मच
चना मसाला- 2 चम्मच
नमक
ताजी धनिया- 2 चम्मच
नींबू रस- 2 चम्मच

विधि :-

चनों को पानी में 6 घंटे के लिए भिगो कर रख दें। भीगे हुए चनों को कुकर में डालें और उसमें 2 कप पानी मिलाएं। थोड़ा सा नमक भी डालें।

एक कढ़ाई में तेल गरम करें, जीरा और हींग डालें। इसके बाद इसमें हरी मिर्च और टमाटर डाल कर पकाएं।

एक मिनट बाद धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, अमचूर पाउडर और चना मसाला डालें और एक मिनट तक पकाएं।

अब इसमें पके हुए चने और 1 कप पानी डालें। नमक अपने हिसाब से संतुलित करें।

इन्हें तब तक पकाएं जब तक कि चने पूरी तरह से सूख ना जाएं। धनिया पत्ती और नींबू का रस डाल कर सर्व करें।

Source via google.com

5/5 (1 Review)

Leave A Reply

Your email address will not be published.